खेल

1984 ओलंपिक बाधा दौड़ चैम्पियन नवल अल मुतवक्किल ने मुंबई में मैजिक बस का दौरा किया

मुंबई
लॉस एंजिलिस ओलंपिक 1984 में उड़नपरी पीटी उषा को हराने वाली 400 मीटर बाधा दौड़ की चैम्पियन नवल अल मुतवक्किल ने उषा के साथ यहां अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस पर मैजिक बस का दौरा किया।

अल मुतवक्किल ओलंपिक स्वर्ण पदक जीतने वाली मोरक्को की पहली और प्रथम मुस्लिम महिला रही हैं। लॉरेस विश्व खेल अकादमी की संस्थापक सदस्य के रूप में वह मैजिक बस का दौरा करने आई। मैजिक बस 1999 से शुरू हुआ एक प्रोजेक्ट है जो भारत में बच्चों और युवाओं को शिक्षा के जरिये गरीबी से निकलने के अवसर उपलब्ध कराता है।

यहां जारी विज्ञप्ति के अनुसार अल मुतवक्किल ने पूर्व पोल वॉल्ट खिलाड़ी सर्जेइ बुबका, भारतीय ओलंपिक संघ की अध्यक्ष पीटी उषा के साथ कार्यक्रम में भाग लिया। ये दिग्गज एथलीट यहां मुंबई में सप्ताह के आखिर में होने वाले अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के सत्र में भाग लेने आये हैं।

इस मौके पर अल मुतवक्किल ने कहा, ‘‘मैजिक बस के असाधारण काम को देखकर मैं बहुत प्रेरित हूं। इससे वंचित वर्ग को मदद मिल रही है और युवा लड़के लड़कियों को शिक्षा के मौके भी।'' उषा ने कहा, ‘‘खेलों के जरिये लैंगिक समानता और बालिका सशक्तिकरण को बढावा देना जरूरी है।इसके लिये प्रयास करने वाले लॉरेस को बहुत बहुत धन्यवाद।''

मुंबई में 15से 17 अक्टूबर तक होने वाले आईओसी के सत्र में अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के सदस्यों की आम बैठक होगी। आईओसी का सत्र दूसरी बार भारत में आयोजित हो रहा है।

 

Back to top button