देश

 सिक्किम में फंसे मेघालय के 26 छात्रों को बचाया गया 

शिलांग
बाढ़ प्रभावित सिक्किम में फंसे मेघालय के 26 छात्रों को सफलतापूर्वक निकाला गया। सभी छात्रों को शिलांग ले जा रहे हैं। बचाव अभियान में शामिल एक अधिकारी ने शनिवार को समाचार एजेंसी PTI को इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि ये 26 छात्र पांच वाहनों में सिक्किम के मजीतर से निकले और शुक्रवार आधी रात के आसपास पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी पहुंचे। इसके बाद शुक्रवार रात को ही सिलीगुड़ी से शिलांग तक उनके परिवहन के लिए एक बस की व्यवस्था की गई।

मेघालय के मुख्यमंत्री ने दिया अपडेट
मेघालय के मुख्यमंत्री कॉनराड के संगमा ने X (पूर्व में ट्विटर) पर कहा, 'मेघालय के 26 छात्रों को लेकर एक बस कल शाम सिलीगुड़ी के रास्ते सिक्किम के मजीतर से रवाना हुई, कोकराझार को पार कर गई है और शिलांग के रास्ते पर है। हमारे छात्रों को सुरक्षित देखकर खुशी हुई। उन्होंने कहा कि सिक्किम में पढ़ रहे मेघालय के छात्रों ने सिक्किम की मौजूदा स्थिति के कारण घर वापस लौटने में सहायता के लिए उनसे संपर्क किया था। 

मेघालय सरकार ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर
अधिकारी ने कहा कि सिक्किम में फंसे लोगों की मदद के लिए मेघालय सरकार ने एक हेल्पलाइन नंबर 1800 345 3644 जारी किया है।

142 लोग अब भी लापता
मंगलवार (3 अक्टूबर) देर रात उत्तरी सिक्किम में ल्होनक झील पर बादल फटने से तीस्ता नदी में अचानक बाढ़ आ गई, जिसमें सात सैन्यकर्मियों सहित 26 लोग मारे गए। वहीं, 142 लोग लापता हैं। अचानक आई बाढ़ में 1,200 से अधिक घर क्षतिग्रस्त हो गए, सुरम्य हिमालयी राज्य में 13 पुल भी बह गए है।

Back to top button