मध्यप्रदेश

इंदौर में ऑईल मिल में लगी भीषण आग, गीले कंबल में लिपटकर बाहर निकले लोग, 11 लोगों को बचाया गया

इंदौर

इंदौर में मंगलवार देर रात ऑयल मिल में आग लग गई। आग फैली तो पास के दो फ्लैट इसकी चपेट में आ गए। दोनों परिवारों को गीले कंबल में लपेटकर बाहर निकाला गया। आग ने भीषण रूप ले लिया, लपटें काफी दूर से दिखाई देने लगीं। 6 फायर ब्रिगेड ने कड़ी मशक्कत के बाद बुधवार सुबह तक आग पर काबू पाया। तब तक दोनों फ्लैट में रखा गृहस्थी का सामान जलकर खाक हो गया।

जानकारी के अनुसार, शहर के चितावद पेट्रोल पंप के पास सिद्धि विनायक ऑयल कंपनी में रात करीब 3 बजे आग लगी थी। यह कंपनी अभिषेक गोयल की बताई जा रही है। मिल के पास अशोक डोर का परिवार रहता है। उन्होंने बताया, रात करीब 3.15 बजे धमाकों की आवाज आई। घरों के कांच फूट गए। नींद खुली तो चारों तरफ धुआं फैला था। यहीं पर एक फ्लैट में भाई का परिवार भी रहता है। आग और धुआं बढ़ रहा था। घर के सभी सदस्यों को दूसरे दरवाजे से गीले कंबल में लपेटकर 10 मिनट में बाहर निकाला।

गृहस्थी का पूरा सामान और कैश-ज्वेलरी जले
अशोक डोर ने बताया, हादसे के समय घर में पत्नी अनिता, बेटी मिकिता, बेटा हर्ष, उज्जैन से आई बेटी सोनिया और उसका 6 साल का बेटा रियांश मौजूद था। भाई के फ्लैट में भाभी शकुंतला, वर्षा, अंजलि, आनंद और शिवानी सो रहे थे। सभी सुरक्षित हैं। दोनों फ्लैट का पूरा सामान जल गया। गृहस्थी का सामान, कैश और ज्वेलरी के जलने से लाखों का नुकसान हुआ है।

मिल मालिक को कई बार समझाया, लेकिन ध्यान नहीं दिया
अशोक ने बताया, ऑयल मिल के मालिक को कई बार समझाया कि इस तरह के व्यवसाय से जान माल का खतरा रहता है। लेकिन उन्होंने ध्यान नहीं दिया। मिल में काफी मात्रा में ऑयल और केमिकल का काम होता है। यहां करीब 30 साल पहले भी आगजनी हो चुकी है।

Back to top button