विदेश

एयर इंडिया ने रद्द की तेल अवीव की फ्लाइट, हमले में अब तक 200 की मौत

इजरायल

 इजरायल पर हमास के हमले के बाद शनिवार को एयरलाइन कंपनी एयर इंडिया ने नई दिल्ली से तेल अवीव और तेल अवीव से नई दिल्ली जाने वाली उड़ानों को रद्द कर दिया है। एयरलाइन कंपनी के मुताबिक, यात्रियों और क्रू मेंबर की सुरक्षा को देखते हुए यह फैसला लिया है। एयर इंडिया के प्रवक्ता ने बताया, “ 07 अक्टूबर 2023 को दिल्ली से तेल अवीव के लिए एयर इंडिया की उड़ान और तेल अवीव से दिल्ली के लिए वापसी उड़ान AI140 को हमारे मेहमानों और चालक दल के हित और सुरक्षा में रद्द कर दिया गया है।" एयरलाइन ने कहा, "यात्रियों को उनकी आवश्यकताओं के अनुसार सभी सहायता दी जा रही है।"

इससे पहले भारतीय दूतावास ने भी एडवाइजरी जारी की है। भारतीय दूतावास द्वारा जारी एडवाइजरी में कहा गया है, “ “इजराइल में वर्तमान स्थिति को देखते हुए, इजराइल में मौजूद सभी भारतीय नागरिकों से अनुरोध किया जाता है कि वे सतर्क रहें और स्थानीय अधिकारियों की सलाह के अनुसार सुरक्षा नियमों का पालन करें। कृपया सावधानी बरतें, अनावश्यक आवाजाही से बचें और सुरक्षित स्थलों के करीब रहें।” एडवाइजरी अंग्रेजी, हिंदी, मराठी, तमिल, तेलुगु, मलयाली और कन्नड़ भाषाओं में जारी किया गया है।

दूतावास की वेबसाइट पर दिए गए विवरण के अनुसार, इजराइल में लगभग 18,000 भारतीय नागरिक हैं, जिनमें मुख्य रूप से इजराइली बुजुर्गों, हीरा व्यापारियों, आईटी पेशेवरों और छात्रों की देखभाल करने के लिए नियुक्त लोग शामिल हैं। इजराइल में भारतीय मूल के लगभग 85,000 यहूदी भी हैं जो पचास और साठ के दशक में भारत से इजराइल गए थे। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इजरायल में आतंकवादी हमलों पर गहरा दुख जताया है और इस कठिन समय में इज़रायल के साथ एकजुटता व्यक्त करने के साथ ही निर्दोष पीड़तिों एवं उनके परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट की है। प्रधानमंत्री मोदी ने एक्स पर पोस्ट किया, ‘‘इजरायल में आतंकवादी हमलों की खबर से गहरा सदमा लगा। हमारी संवेदनाएँ और प्रार्थनाएँ निर्दोष पीड़तिों और उनके परिवारों के साथ हैं। हम इस कठिन समय में इज़रायल के साथ एकजुटता से खड़े हैं।''

इजराइल पर आतंकवादी संगठन हमास के हमले में 200 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि सैंकड़ों लोग घायल हुए हैं। प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतान्याहू ने “युद्ध” की घोषणा करते हुए कहा है कि उनका देश दुश्मन से “अभूतपूर्व कीमत” वसूल करेगा। यह जंग पूर्वी यरुशलम तक फैल गई है। आतंकवादियों ने इजरायल में घुसपैठ किया और गाजा से इजरायल क्षेत्र की ओर 1,000 से ज्यादा अधिक रॉकेट दागे। 
 

Back to top button