छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़-बलौदा बाजार पहुंचे IG और कमिश्नर, ‘सामाजिक सौहार्द बिगाड़ने वालों पर होगी कार्रवाई’

बलौदा बाजार.

बलौदा बाजार में आगजनी की घटना पर छत्तीसगढ़ में बवाल मचा हुआ है। बीजेपी और कांग्रेस एक दूसरे पर निशाना साध रही है। पूर्व सीएम भूपेश बघेल और पीसीसी चीफ दीपक बैज के बाद प्रदेश के मुखिया सीएम विष्णुदेव साय का भी बयान सामने आया है। सीएम ने कहा कि बलौदाबाजार जिले में हुई अप्रिय स्थिति पर आईजी और कमिश्नर को घटनास्थल पर पहुंचने के निर्देश दिए हैं। वो मौके पर पहुंचे गये हैं।

इसके अलावा मुख्य सचिव और डीजीपी को तलब कर घटना की प्रारंभिक जानकारी ली है। घटना की रिपोर्ट भी मंगाई है। गिरौदपुरी के अमर गुफा मामले में पूर्व में ही न्यायिक जांच के लिए गृहमंत्री विजय शर्मा को निर्देशित किया था, जिसकी घोषणा उनकी ओर से की गई थी।  सामाजिक सौहार्द बिगाड़ने वालों पर कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं और सभी से शांति व सौहार्द बनाए रखने की अपील की है। इससे पहले सीएम विष्णुदेव साय के निर्देश पर डिप्टी सीएम और गृहमंत्री विजय शर्मा ने न्यायिक जांच कराने की घोषणा की है। सतनामी समाज के विभिन्न संगठनों और प्रतिनिधियों की मांग पर  जांच कराने की घोषणा की गई है। उप मुख्यमंत्री शर्मा ने कहा कि प्रदेश में कही भी सामाजिक सौहार्द बिगाड़ने वाली घटनाओं को बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। ऐसे कृत्य करने वाले दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। साथ ही सभी से सामाजिक सौहार्द्र बनाए रखने की अपील भी  की है। बता दें कि 15-16 मई की रात को कुछ असमाजिक तत्वों ने जैतखांभ को क्षति पहुंचाने की कोशिश की थी।

बलौदाबाजार में हुई हिंसा की घटना चिंताजनक: भूपेश
पूर्व सीएम भूपेश बघेल और पीसीसी चीफ दीपक बैज का बयान सामने आया है। बघेल ने कहा कि बलौदाबाजार में हुई हिंसा की घटना चिंताजनक है। अगर शासन-प्रशासन ने समय पर आवश्यक कदम उठाए होते तो लोगों की नाराजगी को इस हद तक जाने से रोका जा सकता था। सतनामी समाज बाबा घासीदास के बताए शांति और सद्भाव के रास्ते पर चलने वाला समाज है। मैं समाज के लोगों से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं।

बलौदाबाजार की घटना दुर्भाग्यपूर्ण: दीपक
पीसीसी चीफ दीपक बैज ने कहा कि बलौदाबाजार की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। मैं लोगों से शांति बनाये रखने का आग्रह करता हूं। सरकार की लापरवाही से यह अप्रिय स्थित निर्मित हुई है। पंद्रह दिनों पहले असामाजिक तत्वों द्वारा पवित्र जैतखाम को नुकसान पहुंचाने के मामले में त्वरित कठोर कार्यवाही की गयी होती, तो शायद यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना नहीं होती। मैं लोगों से अपील करता हूं संयम और शांति बनाये रखें कानून को हाथ में न लें। सभ्य समाज में हिंसा कदापि भी बर्दास्त नहीं। बाबा साहब के बनाये कानून पर भरोसा रखें।

    बलौदा बाजार जिले में उत्पन्न हुई अप्रिय स्थिति पर आईजी व कमिश्नर को तत्काल घटनास्थल पर पहुंचने के निर्देश दिए हैं। मुख्य सचिव और डीजीपी को तलब कर घटना की प्रारंभिक जानकारी ली एवं घटना की रिपोर्ट भी मंगाई है।
    ज्ञातव्य हो गिरौदपुरी के अमर गुफा मामले में पूर्व में ही न्यायिक जांच…
    — Vishnu Deo Sai (Modi Ka Parivar) (@vishnudsai) June 10, 2024

Back to top button