मध्यप्रदेश

सीएम राइज स्कूलों से होगा भविष्य के भारत का निर्माणः रजनीश अग्रवाल

बच्चों के सर्वांगीण विकास में मध्यप्रदेश के सीएम राइज स्कूल अहम सिद्ध होंगे
भोपाल

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश मंत्री रजनीश अग्रवाल ने कहा कि आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शाजापुर के गुलाना में प्रदेश के पहले सीएम राइज स्कूल का लोकार्पण कर बच्चों को बड़ी सौगात दी है, यह मध्य प्रदेश के लिए बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को बधाई और शुभकामनाएं देते हुए कहा कि आज प्रदेश शिक्षा के क्षेत्र में नए आयाम गढ़ रहा है। स्कूली, तकनीकी एवं उच्च शिक्षा से लेकर चिकित्सा शिक्षा तक बड़ा बदलाव आया है। दिग्विजय सिंह के बंटाधार शासनकाल में स्कूलों में न भवन थे, न ही शिक्षक और बच्चे लालटेन में पढ़ने को मजबूर थे। प्रदेश में शिक्षाकर्मी कल्चर था, बिगड़ते परीक्षा परिणाम थे, आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में तेज गति से पढ़ता मध्यप्रदेश और आधुनिकता में प्रतिस्पर्धा करता मध्यप्रदेश है।

उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश नई शिक्षा नीति लागू करने वाला देश का पहला राज्य है। नई शिक्षा नीति से जहां शिक्षा में गुणवत्ता आई है, वहीं गुरूकुल परम्परा को बढ़ावा मिल रहा है। सीएम राइज स्कूल आधुनिक पद्धति से अध्ययन-अध्यापन और बच्चों के सर्वांगीण विकास में अहम सिद्ध होंगे। उन्होंने कहा कि पुरातनकाल से हमारी शिक्षा पद्धति गुरूकुल परम्परा पर आधारित रही है, लेकिन बीच में इसे खंडित करने का काम किया गया। आज हम फिर उसी दिशा में आगे बढ़ रहे हैं। मेडिकल, इंजीनियरिंग एवं पोलिटेक्निक कॉलेज में हिंदी भाषा में पढाई प्रारंभ करने वाला मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य बना है। स्कूल शिक्षा की रैंकिंग में छलांग लगाकर प्रदेश 5वें स्थान पर पहुंच गया है।

प्रदेश मंत्री रजनीश अग्रवाल ने कहा कि भाजपा सरकार ने प्रदेश के प्रत्येक जिले एवं विकासखंड स्तर पर सीएम राइज स्कूलों की स्थापना कर स्कूल शिक्षा के क्षेत्र में भागीरथी प्रयास किए हैं। पूरे प्रदेश में 9 हजार 95 सीएम राइज स्कूल बनाए जाने का लक्ष्य रखा है। इसका मुख्य लक्ष्य अनुकरणीय रूप से बच्चों के सीखने की प्रक्रियाओं को निर्धारित करना, विद्यार्थियों की सीखने की निरंतरता और शिक्षकों तथा विद्यार्थियों के बीच सहज जुड़ाव है। यह स्कूल विद्यार्थियों के सम्पूर्ण विकास का विजन एवं विद्यार्थियों को 21वीं सदी की चुनौतियों का सामना करने में सक्षम बनाने के मिशन के साथ साहसी, उत्कृष्ट, सत्यनिष्ठ तथा सभी के प्रति सम्मान और करूणा से युक्त विद्यार्थियों को गढ़ेगा। आने वाले समय में इन स्कूलों के सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे। हमारी युवा शक्ति यहां से शिक्षित होकर निकलेगी और प्रदेश व देश के सर्वांगीण विकास में अपना अहम योगदान देगी।

Aakash

Back to top button