छत्तीसगढ़

कांग्रेस की सूची ‘मुहूर्त-नक्षत्रों’ में उलझी

रायपुर.

मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ सहित दो अन्य राज्यों के विधानसभा चुनावों की तारीखों का एलान हो गया है। भारतीय जनता पार्टी ने एमपी, राजस्थान व छत्तीसगढ़ के उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी है। पार्टी की अगली सूची कुछ दिनों में आने की उम्मीद है। इधर, कांग्रेस ने अभी तक चुनावी राज्यों की एक भी लिस्ट जारी नहीं की है। छत्तीसगढ़ में सात नवंबर को पहले चरण की वोटिंग होना है, समय कम है, फिर भी कांग्रेस शुभ मुर्हूत का इंतजार कर रही है। कांग्रेस के सूत्रों का कहना है कि नवरात्र के पहले दिन सूची जारी की जा सकती है। अभी पितृ पक्ष चल रहा है। ऐसे में कोई लिस्ट जारी करना शुभ नहीं होगा।

राजनीतिक जानकारों का कहना है कि सूची जारी करने के पीछे हो सकता है कि कांग्रेस की कोई रणनीति हो। अगर पार्टी नवरात्र में उम्मीदवार घोषित करती है तो यह पार्टी का हिंदुत्व कार्ड साबित होगा। पार्टी इस बहाने से यह भी बताने की कोशिश कर रही है कि वह शास्त्रों और नक्षत्रों के साथ साथ धार्मिक मान्यताओं पर भी विश्वास करती है। नवरात्र से महिला वोटर्स को साधने की कोशिश होगी। यह दांव भाजपा पर भारी पड़ सकता है। शास्त्रों में अश्विन मास के कृष्ण पक्ष को पितृों को समर्पित किया गया है। यहीं वजह है कि इन 15 दिनों में देवकार्य नहीं किए जाते है। लेकिन 15 अक्तूबर को नवरात्र शुरु हो रहे है। इन दिन पदम योग भी है। जो राजनीतिक दृष्टि से बहुत ही शुभ होता है।

Back to top button