राजनीति

दिग्विजय सिंह PFI पर कार्रवाई का क्यों विरोध करते हैं : सीएम चौहान

भोपाल
मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव की तारीख का ऐलान होते ही, सभी पार्टियां प्रचार में जुट चुकी हैं। साथ ही नेताओं का एक दूसरे पर वार पलटवार भी काफी तेजी से चल रहा है। कांग्रेस और बीजेपी दोनों ही पार्टी अपनी अपनी सरकार बनाने का पूरा दावा कर रही है। इसी बीच प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ, प्रियंका गांधी पर जमकर निशाना साधा है। शिवराज सिंह चौहान ने मध्यप्रदेश दौरे पर आईं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा से पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) पर कार्रवाई का कथित तौर पर विरोध कर रहे पार्टी नेता दिग्विजय सिंह के संबंध में सवाल किया है।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मैं प्रियंका जी से सवाल पूछना चाहता हूं, आपकी पार्टी के नेता पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पीएफआई पर कार्रवाई का विरोध कर रहे हैं, पीएफआई टेरर फंडिंग फंडिंग करती है। आतंकवादी गतिविधियों में लिप्त है, बैन लगा हुआ है, देश की दुश्मन है, उस पर कार्रवाई अगर होती है तो दिग्विजय सिंह विरोध करते है, क्या यही कांग्रेस का स्टैंड है। आतंकवादियों को महिमामंडित करना, सर्जिकल स्ट्राइक का विरोध करना, पीएफआई  पर कार्रवाई का विरोध करना।

उन्होंने प्रियंका से कहा कि मध्यप्रदेश में उन्हें जवाब देना पड़ेगा कि क्या वे दिग्विजय सिंह के बयान से सहमत हैं। क्या कांग्रेस भी पीएफआई पर कार्रवाई का विरोध कर रही है। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह का कल उज्जैन का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था, जिसमें वे राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की कार्रवाई पर सवाल खड़े करते हुए सुनाई दे रहे थे। उन्होंने कहा कि एनआईए के द्वारा की गई कार्रवाई के 97 फीसदी मामले झूठ पाए गए।

साथ ही उन्होंने कमलनाथ पर तंज कसते हुए कहा कि मुंह में राम बगल में छुरी, सामने आदिवासी प्रेम और पीछे दी गई सुविधा समाप्त करने का अपराध आपने किया। जवाब तो देना होगा, कर्ज माफी का झूठा पिछली बार बोला गया था 10 दिन में कर्जा माफ, बेरोजगारी भत्ता देने का झूठ, समर्थन मूल्य पर बोनस देने का झूठा, कितने झूठ की गारंटी देने आ रही है आप (प्रियंका गांधी)।  दरअसल शिवराज सिंह चौहान ने पूर्व में भी राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के मध्य प्रदेश दौरे के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और कमलनाथ को लेकर सवाल उठाए थे।  

Back to top button