मध्यप्रदेश

IAS अधिकारियों ने मांगी पुरानी पेंशन योजना, एनपीएस और ओपीएस में केंद्र ने दिया था चॉइस का मौका

भोपाल
प्रदेश के पांच आईएएस अधिकारियों को पुरानी पेंशन योजना का लाभ दिया जाएगा। इन्होंने नई पेंशन योजना की जगह पुरानी पेंशन योजना का लाभ दिए जाने के लिए आवेदन दिए थे।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक  मध्य प्रदेश काडर के 2004 और 2005 बैच के पांच आईएएस अधिकारियों ने राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली के स्थान पर अखिल भारतीय सेवा मृत्यु या सेवा में वृद्धि लाभ नियम के तहत पुरानी पेंशन योजना का लाभ प्रदान करने के लिए अपने आवेदन दिए हैं। इन अधिकारियों में मध्य प्रदेश कैडर के 2004 बैच के आईएएस जॉन किंग्सली और रघुराज एम आर तथा 2005 बैच के तीन अधिकारियों राहुल जैन, जीबी रश्मि और संजीव सिंह शामिल है। केंद्रीय कार्मिक लोक शिकायत पेंशन मंत्रालय कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग ने अखिल भारतीय सेवा के अधिकारी जिन्हें एनपीएस की अधिसूचना की तारीख 22 दिसंबर 2003 से पहले भर्ती के लिए अधिसूचित पद के विरुद्ध नियुक्त किया गया है और जो 1 जनवरी 2004 को या उसके बाद सेवा में शामिल होने पर एनपीएस के तहत कवर किए गए हैं उन्हें अखिल भारतीय सेवा नियम के तहत पुरानी पेंशन योजना के प्रावधानों के तहत कवर करने के लिए एक बार विकल्प देने का प्रावधान किया है। सिविल सेवा परीक्षा 2003 और सिविल सेवा परीक्षा 2004 तथा भारतीय वन सेवा परीक्षा 2003 के माध्यम से चयनित अखिल भारतीय सेवा के सदस्यों के सावधान के तहत कवर करने के पात्र  है।

बैंस ने दी अनुमति
मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस ने इन पांचों आईएएस अधिकारियों के आवेदन पर विचार करने के बाद इन्हें राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली एनपीएस की जगह  पुरानी पेंशन योजना (ओ पी एस ) का लाभ दिए जाने की अनुमति प्रदान कर दी है।

Back to top button