खेल

जूनियर महिला राष्ट्रीय हॉकी चैंपियनशिप की शुरूआत आज से, 28 टीमें लेंगी हिस्सा

-पहले मैच में कर्नाटक का सामना जम्मू-कश्मीर से

राउरकेला
 13वें हॉकी इंडिया जूनियर महिला राष्ट्रीय चैंपियनशिप की शुरुआत आज मंगलवार से ओडिशा के राउरकेला के विश्व स्तरीय बिरसा मुंडा हॉकी स्टेडियम में हो रही है, जिसमें 28 टीमें हिस्सा ले रही हैं। 28 टीमों को 8 समूहों में विभाजित किया गया है, प्रत्येक समूह के विजेता क्वार्टर-फ़ाइनल में प्रवेश करेंगे। दो बार की मौजूदा चैंपियन हॉकी हरियाणा की टीम बंगाल और तेलंगाना के साथ पूल ए में है।

हॉकी हरियाणा के कोच आज़ाद सिंह ने टीम की संभावनाओं के बारे में कहा, हमारे पूल में कुछ अच्छी टीमें हैं और हम सभी टीमों से कड़ी चुनौती का सामना करने के लिए तैयार हैं क्योंकि हम एक बार फिर खिताब बरकरार रखने के लक्ष्य के साथ अभ्यास कर रहे हैं। हम आक्रामक हॉकी खेलने, पेनल्टी कॉर्नर में अपनी ताकत का फायदा उठाने और राष्ट्रीय चैंपियनशिप में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की कोशिश करेंगे, जैसा कि हमने पिछले वर्षों में किया है। पिछले साल के उपविजेता झारखंड को राजस्थान और असम के साथ पूल बी में रखा गया है।

हॉकी झारखंड के कोच हिमांशु ने राष्ट्रीय चैंपियनशिप जीतने के अपने इरादे को दोहराते हुए कहा, हम एक सप्ताह से कुछ अधिक समय से अभ्यास कर रहे हैं। हमारे सत्र पिछले वर्षों के विरोधियों में पाई गई कमजोरियों का फायदा उठाने के साथ-साथ सेट पीस पर काम करने पर केंद्रित हैं। हम अभ्यास मैच खेल रहे हैं। हम अपने गोल स्कोरिंग में सुधार करने और इस बार रजत पदक को स्वर्ण पदक में बदलने के अपने प्रयासों में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे।

हॉकी एसोसिएशन ऑफ ओडिशा टूर्नामेंट के पिछले संस्करण के दौरान तीसरे स्थान पर रहा था और इस बार भी वे आगे बढ़ने की कोशिश कर रहे हैं। हॉकी एसोसिएशन ऑफ ओडिशा को तमिलनाडु हॉकी यूनिट और मणिपुर हॉकी के साथ पूल सी में रखा गया है।

हॉकी एसोसिएशन ऑफ ओडिशा के कोच एडगर ने कहा, हम पिछले तीन हफ्तों से तैयारी कर रहे हैं, मुख्य रूप से अपनी फिटनेस और बुनियादी बातों पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। गेम प्लान अवसर बनाने के लिए प्रभावी ढंग से संचार करते हुए गेंद पर कब्ज़ा बनाए रखना है। राष्ट्रीय चैंपियनशिप कई उत्कृष्ट प्रतियोगिताओं से भरी हुई हैं हॉकी हरियाणा, हॉकी मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश हॉकी, हॉकी पंजाब और हॉकी चंडीगढ़ जैसी टीमें हैं और हम पोडियम पर पहुंचने के रास्ते में उनका सामना करने के लिए उत्साहित हैं।''

हॉकी महाराष्ट्र, दिल्ली हॉकी और केरल हॉकी पूल डी में हैं, जबकि हॉकी कर्नाटक, हॉकी मध्य प्रदेश, ले पुडुचेरी हॉकी और हॉकी जम्मू और कश्मीर पूल ई में हैं। हॉकी चंडीगढ़, हॉकी मिजोरम, हॉकी बिहार, दादरा और नगर हवेली और दमन और दीव हॉकी पूल एफ में हैं, जबकि हॉकी मध्य प्रदेश, हॉकी आंध्र प्रदेश, हॉकी हिमाचल प्रदेश और गोवा हॉकी पूल एच में हैं। चैंपियनशिप के पहले मैच में कल हॉकी कर्नाटक का सामना जम्मू एवं कश्मीर से होगा।

 

Aakash

Back to top button