राजनीति

चुनाव में टिकट बंटवारे पर कमलनाथ ने किया साफ, कहा- ‘सर्वे कराएंगे और फिर…’

भोपाल

मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ (Kamal Nath) ने  को कहा कि इस साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव (Assembly Election) के लिए उनकी पार्टी एक स्वतंत्र सर्वेक्षण करा रही है, जिससे राज्य में पार्टी उम्मीदवारों के चयन में मदद मिलेगी. उन्होंने कहा कि पार्टी उम्मीदवार चयन प्रक्रिया के तहत कांग्रेस (Congress) स्थानीय लोगों की राय को महत्व देगी.

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी के टिकट वितरण पर पूछे गये एक सवाल के जवाब में कमलनाथ ने मीडिया से कहा, 'इस चुनाव के लिए टिकट फॉर्मूला तैयार है. टिकट के लिए तेरा- मेरा नहीं चलेगा. सर्वे एवं स्थानीय लोगों की राय के आधार पर टिकट तय किए जाएंगे.' उन्होंने आगे कहा, 'हम (मध्य प्रदेश कांग्रेस) स्वतंत्र सर्वेक्षण कर रहे हैं. अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (AICC) भी अपने स्तर पर एक सर्वेक्षण कर रही है. इसमें हम स्थानीय लोगों की राय को महत्व देंगे.'

चुनाव से पहले सर्वे को लेकर कमलनाथ ने बताई ये वजह

इस दौरान मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम ने यह भी कहा कि टिकट वितरण की कोई भी प्रक्रिया आम सहमति के आधार पर पूरी नहीं की जा सकती क्योंकि, चुनाव लड़ने की चाहत रखने वाला कोई व्यक्ति नहीं कहता कि वह हारने वाला है, सभी दावा करते हैं कि वे जीतने वाले हैं. कमलनाथ के इस बयान से पार्टी के कई नेताओं में मायूसी छा गई है.  मध्य प्रदेश विधानसभा चुनावों की तैयारियों को लेकर कांग्रेस आलाकमान जोरशोर से तैयारियों में जुटा है. पार्टी अध्यक्ष कमलनाथ सहित पार्टी के दूसरे नेता बीजेपी की अगुवाई वाली प्रदेश सरकार को लगातार घेरने की कोशिश करते नजर आ रहे हैं.

कमलनाथ ने सीएम शिवराज पर लगाए ये आरोप

शनिवार (24 जून) मंडला में जिला कांग्रेस द्वारा आयोजित जनसभा को संबोधित करने पहुंचे कमलनाथ ने मध्य प्रदेश सरकार जबानी हमला बोलते हुए कहा था कि, 'केंद्र सरकार के आंकड़ों पर नजर डालें तो मध्य प्रदेश आदिवासियों पर अत्याचार और अन्याय में देश में सबसे आगे है. मंडला की जनता इस बात की गवाह है.' उन्होंने प्रदेश सरकार पर आरोप लगाया कि 18 सालों में शिवराज सिंह की अगुवाई वाली बीजेपी सरकार ने प्रदेश सरकार ने युवाओं और आदिवासियों के भविष्य को चौपट कर दिया है.

कमलनाथ ने कहा कि आदिवासियों के लिए बने पेसा कानून में भी भर्ती घोटाल प्रदेश सरकार ने कर दिया.  इस दौरान कमलनाथ ने कहा, आज प्रदेश में नौजवान बिना काम के, किसान बिना दाम के तो मैं पूछता हूं सीएम शिवराज आप किस काम के. सीएम शिवराज आपने आखिर प्रदेश को दिया क्या है. आपने महंगाई दी, भ्रष्टाचार दिया, बेरोजगारी, महंगी बिजली, लाचार स्वास्थ्य, सड़कों पर गड्ढे दिए और इससे बड़ी बात घर- घर में शराब दी.

Aakash

Back to top button