देश

NIA की कश्मीर में छह जगहों पर ताबड़तोड़ छापेमारी, आतंक से जुड़े मामलों में कार्रवाई

श्रीनगर

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने आज सोमवार को कश्मीर घाटी में छह जगहों पर छापा मारा है। अब तक मिली जानकारी के मुताबिक आतंकी गतिविधि से संबंधित एक मामले में जांच के सिलसिले में यहां छापेमारी की गई है। आज सुबह NIA की टीमें बड़ी संख्या में सुरक्षाबलों के साथ बांदीपोरा, कुलगाम, पुलवामा और शोपियां इलाके में पहुंची। कश्मीर के इन चार जिलों में छह जगहों पर NIA की टीम सघन जांच कर रही है।

मामला साल 2022 में दर्ज टेरर फंडिंग केस से जुड़ा है. ये छापेमारी पाकिस्तानी टेरर मॉड्यूल से जुड़े ओवर ग्राउंड वर्कर्स के ठिकानों पर की जा रही है. इससे पहले भी इस मामले में NIA ने जम्मू-कश्मीर के अलग-अलग शहरों में तलाशी ली थी. इससे पहले एनआईए ने जम्मू कश्मीर की 51 लोकेशंस पर छापेमारी की थी. श्रीनगर के बड़गाम में द रेसिस्टेंस फ्रंट, यूनाइटेड लिबरेशन फ्रंट जम्मू-कश्मीर, मुजाहिदीन गजवत उल हिंद, जम्मू-कश्मीर फ्रीडम फाइटर समेत कई संगठन शामिल थे.

आतंकियों के लिए हथियार, पैसों का इंतजाम करने में मदद

जिन संगठनों पर कार्रवाई की गई उनसे जुड़े सदस्यों पर आरोप था कि वह आतंकियों के लिए हथियार, पैसे, स्टिकी बम, मैग्नोटिक बम और आईईडी जैसी चीजों का इंतजाम कराने में मदद कर रहे थे. इसी के साथ एनआईए ने कई बड़े खुलासे भी किए थे. एनआईए ने कहा था कि देश में आतंकी साजिशों को अंजाम देने के लिए युवाओं को मोहरा बनाया जा रहा है. युवाओं को ब्रेन वॉश कर उन्हें आतंकवादी बनाया जा रहा है. इतना ही नहीं आतंकी साजिशों को अंजाम देने के लिए पाकिस्तान से हथियारों की सप्लाई की जा रही थी.

ISI को लेकर खुलासा

वहीं हाल ही में जम्मू-कश्मीर में सेना ने भी पाकिस्तान की खूफिया एजेंसी ISI को लेकर बड़ा खुलासा किया था. बताया गया था कि पाकिस्तान में बैठे आतंकी संगठनों के सरगना और आईएसआई महिलाओं और किशोरो का इस्तेमाल करके भारत में आतंकी साजिशों को अंजाम देने की साजिश रच रहा है. इसी के साथ सुरक्षाबलों को और भी ज्यादा अलर्ट रहने के लिए कहा गया था.

Aakash

Back to top button