देश

अखौरा-अगरतला रेल लिंक के उद्घाटन पर बोले पीएम मोदी- ‘हमारे रिश्ते लगातार नई ऊंचाइयों को छू रहे’

नई दिल्ली
पीएम नरेंद्र मोदी ने अखौरा-अगरतला रेल लिंक के उद्घाटन को ऐतिहासिक क्षण बताते हुए कहा है कि यह बांग्लादेश और भारत के उत्तर पूर्वी राज्यों के बीच पहला रेल लिंक है। उन्होंने कहा कि मुक्ति संग्राम के दिनों से ही त्रिपुरा का बांग्लादेश के साथ मजबूत संबंध रहा है और पिछले 9 वर्षों में भारत और बांग्लादेश के बीच आंतरिक व्यापार तीन गुना हो गया है।

रेल लिंक का उद्घाटन एक ऐतिहासिक क्षण
आज बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के साथ एक वीडियो कॉन्फ्रेंस में पीएम मोदी ने कहा, ''पिछले 9 वर्षों में हमारा आंतरिक व्यापार तीन गुना हो गया है। आज अखौरा-अगरतला रेल लिंक का उद्घाटन एक ऐतिहासिक क्षण है। बांग्लादेश और भारत के उत्तर पूर्वी राज्यों के बीच पहला रेल लिंक… मुक्ति संग्राम के दिनों से ही त्रिपुरा का बांग्लादेश के साथ मजबूत रिश्ता रहा है। मुझे खुशी है कि हमने मैत्री थर्मल पावर प्रोजेक्ट की दूसरी इकाई का उद्घाटन किया है।"
 

भारत और बांग्लादेश के बीच पर्यटन को बढ़ावा दिया
पीएम मोदी ने कहा, "सीमा पर शांति, सुरक्षा और स्थिरता स्थापित करने के लिए हमने भूमि सीमा समझौते पर हस्ताक्षर किए, जो दशकों से विलंबित था। हमने समुद्री सीमा का भी समाधान किया। पिछले 9 वर्षों में, ढाका को जोड़ने वाली 3 नई बस सेवाएं शुरू की गई हैं।" शिलांग, अगरतला, गुवाहाटी और कोलकाता… पिछले 9 वर्षों में 3 नई ट्रेन सेवाएं भी शुरू हुई हैं। 2020 से भारत और बांग्लादेश के बीच पार्सल और कंटेनर ट्रेनें भी चल रही हैं। दुनिया का सबसे बड़ा क्रूज गंगा विलास शुरू करके, भारत और बांग्लादेश के बीच पर्यटन को बढ़ावा दिया गया है।''
 

हमारे रिश्ते लगातार नई ऊंचाइयों पर पहुंच रहे
भारत और बांग्लादेश के बीच तीन विकास परियोजनाओं के उद्घाटन पर पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, "यह खुशी की बात है कि एक बार फिर हम भारत-बांग्लादेश सहयोग की सफलता का जश्न मनाने के लिए जुड़े हैं। हमारे रिश्ते लगातार नई ऊंचाइयों पर पहुंच रहे हैं।" उन्होंने कहा, "पिछले 9 वर्षों में हमने मिलकर जो काम किया है, वह इससे पहले के दशकों में भी नहीं किया गया था।"
 
पीएम ने शेख हसीना का आभार व्यक्त किया
मोदी ने कहा, "हमने अपने पड़ोसी देश बांग्लादेश के लिए भी 'सबका साथ, सबका विकास' के अपने दृष्टिकोण पर विचार किया है। हमें बांग्लादेश के लिए सबसे बड़ा विकास भागीदार होने पर गर्व है। पिछले 9 वर्षों में, 10 बिलियन अमरीकी डालर की सहायता दी गई है। हमारी उपलब्धियां बहुत लंबी हैं। आज जिन तीन परियोजनाओं का उद्घाटन हुआ है, हमने उनका निर्णय लिया और हमें उनका उद्घाटन करने का मौका भी मिला। हमारे संयुक्त प्रयासों की सफलता के लिए मैं पीएम शेख हसीना का आभार व्यक्त करता हूं।''

यात्रा के समय में काफी कमी आएगी
बतातें चलें कि पीएम मोदी और उनकी बांग्लादेशी समकक्ष शेख हसीना ने बुधवार को संयुक्त रूप से डिजिटल माध्यम से तीन परियोजनाओं का उद्घाटन किया, जिसमें पड़ोसी देश में त्रिपुरा के निश्चिंतपुर और गंगासागर के बीच एक महत्वपूर्ण रेल संपर्क भी शामिल है। मोदी और हसीना ने जिन अन्य दो परियोजनाओं का उद्घाटन किया उनमें 65 किलोमीटर लंबी खुलना-मोंगला बंदरगाह रेल लाइन और बांग्लादेश के रामपाल में मैत्री सुपर थर्मल पावर प्लांट की दूसरी इकाई शामिल हैं। करीब 15 किलोमीटर लंबे अगरतला-अखौरा क्रॉस बॉर्डर रेल संपर्क से सीमा पार व्यापार को बढ़ावा मिलने की उम्मीद है और ढाका के रास्ते अगरतला और कोलकाता के बीच यात्रा के समय में काफी कमी आएगी।

Back to top button