देश

दिल्ली सरकार के खिलाफ भाजपा कार्यकर्ताओं का विरोध प्रदर्शन

नई दिल्ली.

दिल्ली की नई आबकारी नीति में कथित घोटाले से जुड़ी ईडी चार्जशीट में अरविंद केजरीवाल का नाम आने के बाद भाजपा ने आम आदमी पार्टी के कार्यालय के बाहर शनिवार को जोरदार विरोध प्रदर्शन किया. भाजपा कार्यकर्ताओं ने केजरीवाल सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए जमकर नारेबाजी की और मुख्यमंत्री के इस्तीफे की मांग की. दिल्ली बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष वीरेन्द्र सचदेवा ने कहा कि अरविंद केजरीवाल में नैतिकता हो तो, मदन लाल खुराना ने 1995 में आरोप लगने पर जो नैतिकता दिखाई थी, उसका अनुसरण करते हुए वह ईडी की चार्जशीट में अपना नाम आने पर इस्तीफा दें.

दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह विधूड़ी ने कहा कि भाजपा शुरू से कहती रही है कि आम आदमी पार्टी सरकार के शराब घोटाले को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का संरक्षण प्राप्त है और अब तो ईडी चार्जशीट ने हमारे आरोप की पुष्टी भी कर दी है. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि दिल्‍ली में कथित शराब घोटाले की जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय कल कोर्ट में जो चार्जशीट फाइल की, उसमें मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया से लेकर तेलंगाना सीएम के. चंद्रशेखर राव की बेटी के. कविता का नाम भी आया है. ED ने अपनी चार्जशीट में दावा किया है कि AAP ने दिल्ली शराब घोटाले के पैसों का इस्तेमाल गोवा में चुनाव प्रचार के लिए किया.

ईडी ने चार्जशीट में क​हा है कि दिल्ली शराब घोटाले के एक आरोपी विजय नायर ने इंडोस्पिरिट्स के MD समीर महेंद्रू की दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल से बात कराई थी. दोनों के बीच यह बातचीत विजय के फोन से फेसटाइम वीडियो कॉल पर हुई थी. ईडी के मुताबिक अरविंद केजरीवाल ने समीर महेंद्रू से कहा था, ‘विजय मेरा लड़का है, आपको उस पर भरोसा करना चाहिए और उसके साथ काम करना चाहिए.’ गोवा विधानसभा चुनाव 2022 में हुए थे जिसमें AAP ने 2 सीटों पर जीत हासिल की थी. ED के दावे के मुताबिक, आम आदमी पार्टी के सर्वे दल में शामिल वॉलेंटियर्स को करीब 70 लाख रुपए का नकद भुगतान किया गया. जांच एजेंसी ने कहा कि AAP के कम्यूनिकेशन इंचार्ज विजय नायर ने कैंपेन से जुड़े कुछ लोगों को कैश पेमेंट लेने को कहा था.

Back to top button