देश

पांच दिनों में दूसरी घटना: जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में घुसपैठ की कोशिश नाकाम, मारे गए दो आतंकवादी

 श्रीनगर

जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में सुरक्षा बलों ने गुरुवार को माछिल सेक्टर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर घुसपैठ की कोशिश नाकाम कर दी जिसमें दो आतंकवादी मारे गए। पिछले पांच दिनों में कश्मीर में घुसपैठ की यह दूसरी घटना है जिसे नाकाम किया गया है। इससे पहले 22 अक्टूबर को बारामूला के उरी सेक्टर में दो घुसपैठियों को मारा गया था।

कश्मीर पुलिस ने 'एक्स' पर लिखा, ''कुपवाड़ा पुलिस से प्राप्त एक विशेष सूचना के आधार पर, माछिल सेक्टर में मुठभेड़ शुरू हुई, जिसमें अब तक दो आतंकवादी मारे गए हैं। ऑपरेशन जारी है। आगे की जानकारी आने पर दी जाएगी।''

इससे पहले सेना की श्रीनगर स्थित चिनार कोर ने 'एक्स' पर लिखा कि कुपवाड़ा में घुसपैठ की कोशिश नाकाम कर दी गई। सेना ने कहा कि जम्मू-कश्मीर पुलिस और खुफिया एजेंसियों द्वारा कुपवाड़ा सेक्टर में एलओसी पर 26 अक्टूबर को शुरू किए गए एक संयुक्त अभियान में हमारे सतर्क सैनिकों ने घुसपैठ की एक कोशिश को नाकाम कर दिया है।

घुसपैठ की कोशिश एक उच्च स्तरीय बहु-एजेंसी संयुक्त सुरक्षा समीक्षा बैठक के एक दिन बाद हुई जिसमें सर्दियों के मौसम की शुरुआत में क्षेत्र की सुरक्षा बारीकियों पर चर्चा करने के की गई थी। सर्दियों के मौसम से पहले ऊंचे पहाड़ी दर्रों पर बर्फ पड़ती है और पाकिस्तान की ओर से हमेशा आतंकवादियों को भेजने की कोशिश की जाती है।

बता दें कि बीते रविवार को जम्मू-कश्मीर के उरी सेक्टर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर सुरक्षाबलों ने घुसपैठ की कोशिश को नाकाम करते हुए दो आतंकवादियों को मार गिराया था। श्रीनगर में रक्षा विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि खुफिया एजेंसियों और जम्मू-कश्मीर पुलिस से गुप्त जानकारी मिली थी कि नियंत्रण रेखा के पार से भारी हथियारों से लैस आतंकवादी उरी सेक्टर में घुसपैठ की कोशिश कर सकते हैं, जिसके बाद सैनिकों को 'हाई अलर्ट' पर रखा गया था व घुसपैठ रोधी ग्रिड को मजबूत किया गया था।

 

Back to top button