व्यापार

1 जुलाई से होने जा रहे हैं ये बड़े बदलाव, सीधे आपकी जेब पर डालेंगे असर

नई दिल्ली
 जून का महीना खत्म होने वाला है। कुछ दिन बाद जुलाई का महीना शुरू हो जाएगा। देश में हर महीने की पहली तारीख को कई बदलाव होते हैं। यह बदलाव सीधे आम आदमी की जेब पर असर डालते हैं। ऐसे में आपको इन बदलावों के बारे में जानकारी होना जरूरी है। एक जुलाई से भी कई बदलाव (Rules Change From July 1, 2023) होने जा रहे हैं। इनका सीधा संबंध आपकी जेब से है। इन बदलावों में रसोई गैस सिलेंडर की कीमत से लेकर सीएनजी-पीएनजी की कीमतें भी शामिल हैं। आइए जानते हैं 1 जुलाई से कौन से बदलाव होने जा रहे हैं।

 

रसोई गैस की कीमतों में बदलाव

सरकारी तेल कंपनियां हर महीने की पहली तारीख को रसोई गैस की कीमतों में बदलाव करती हैं। एलपीजी गैस की कीमतें हर महीने की पहली तारीख को तय होती हैं। बीते मई और अप्रैल में पहली तारीख को 19 किलो वाले कमर्शियल रसोई गैस सिलेंडर के दाम में कटौती की गई थी। हालांकि 14 किलो वाले रसोई गैस सिलेंडर की कीमतों में किसी तरह का बदलाव नहीं हुआ था। वहीं 1 जून को एलपीजी गैस सिलेंडर बेचने वाली पेट्रोलियम कंपनियों ने एलपीजी के रेट बदले थे।

एलपीजी सिलेंडर सस्ता हुआ था। 19 किलोग्राम के कमर्शियल एलपीजी सिलेंडर की कीमत 83.50 रुपये घटाई गई थी, जबकि घरेलू गैस सिलेंडर की कीमत में कोई बदलाव नहीं किया गया था।

क्रेडिट कार्ड से जुड़े नियम

विदेश में क्रेडिट कार्ड के जरिए किए जाने वाले खर्च पर एक जुलाई, 2023 से टीसीएस शुल्क लगाने का प्रावधान लागू हो सकता है। इसके तहत, खर्च 7 लाख रुपये से अधिक होने पर 20 फीसदी टीसीएस का भुगतान करना पड़ेगा। हालांकि, शिक्षा एवं चिकित्सा से संबंधित खर्च होने पर यह शुल्क घटकर 5 फीसदी हो जाएगा। वहीं, विदेश में शिक्षा के लिए कर्ज लेने वाले करदाताओं को पर 7 लाख से अधिक राशि पर 0.5 फीसदी टीसीएस शुल्क का भुगतान करना पड़ेगा।

 

सीएनजी-पीएनजी की कीमतें

हर महीने की पहली तारीख या पहले हफ्ते में सीएनजी और पीएनजी की कीमतों में बदलाव होता है। दिल्ली और मुंबई में महीने के शुरुआती हफ्ते में पेटोलियम कंपनियां गैस के दाम में बदलाव करती हैं। जुलाई में भी कीमतों में बदलाव हो सकता है।

Aakash

Back to top button