विदेश

अमेरिका के कनेक्टिकट राज्य ने स्कूली पाठ्यक्रम में सिख धर्म को शामिल किया

भारतीय अमेरिकी दंपति ने हिंदू युवा शिविर-स्थल के निर्माण के लिए 17.5 लाख डॉलर दान किए

वाशिंगटन
 ह्यूस्टन में रहने वाले एक भारतीय अमेरिकी दंपति ने टेक्सास में पहले हिंदू शिविर-स्थल के निर्माण की शुरुआत के लिए 17.5 लाख अमेरिकी डॉलर दान में दिए हैं।

इस शिविर में हर गर्मियों में युवा शिविरों का आयोजन किया जाएगा।

इस संबंध में जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया कि अकादमिक शिक्षा प्रदान करने वाले विद्यालयों और कॉलेजों के समान ही ‘हिंदू हेरिटेज यूथ’ शिविर असल जिंदगी के उदाहरणों के माध्यम से शिक्षा प्रदान करेगा।

इतनी बड़ी राशि दान करने वाले दंपति सुभाष गुप्ता और सरोजिनी गुप्ता का कहना है कि वे शिविर को लेकर बहुत ही उत्सुक हैं क्योंकि यह अगली पीढ़ी में महत्वपूर्ण मूल्यों और जरूरी कौशल को विकसित करने का काम करेगा।

सुभाष ने कहा, ”यह सबसे अच्छी चीज है, जो हम अगली पीढ़ी के लिए कर सकते हैं।”

उन्होंने कहा, ”हम पहले ही इस देश में युवाओं को खो रहे हैं क्योंकि वे हमारे हिंदू धर्म और हमारे मूल्यों को सहेजकर रखने में रूचि नहीं रखते, इसलिए हम जो कुछ भी इसे बचाने के लिए कर सकें वह बेहतर होगा।”

यह शिविर-स्थल टेक्सास के कोलंबस में 37 एकड़ क्षेत्र में स्थित है, जो अगली गर्मियों तक बनकर पूरा हो जाएगा। यहां छह रात और पांच दिन का शिविर आयोजित किया जाएगा।

अमेरिका के कनेक्टिकट राज्य ने स्कूली पाठ्यक्रम में सिख धर्म को शामिल किया

वाशिंगटन
 अमेरिका के कनेक्टिकट राज्य के लगभग 5,14,000 छात्र-छात्राओं को अब सिख धर्म को जानने और समझने का मौका मिलेगा। कनेक्टिकट स्टेट बोर्ड ऑफ एजुकेशन ने सामाजिक विज्ञान के अपने नये पाठ्यक्रम में सिख धर्म को शामिल करने का फैसला किया है। इस फैसले पर यहां रह रहे सिख समुदाय ने खुशी जताई है। यह जानकारी मीडिया रिपोर्ट्स में दी गई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यहां का सिख समुदाय लंबे समय से अपने धर्म को पाठ्यक्रम में शामिल करने की मांग कर रहा था। नॉर्विच सिटी के स्वर्णजीत सिंह के हवाले से मीडिया रिपोर्ट्स मंर कहा गया है कि नया पाठ्यक्रम विद्यार्थियों को शिक्षा के तीनों स्तर पर सिख समुदाय के बारे में जानने का अवसर प्रदान करेगा। छात्र-छात्राओं को कम उम्र से ही सिख धर्म के इतिहास और समुदाय के योगदान के बारे में पढ़ाया जाएगा। इससे बच्चों के लिए सुरक्षित वातावरण बनाने में मदद मिलेगी।

मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि सिख कोएलिशन नामक संगठन शिक्षा विभाग के साथ मिलकर काम करेगा। कनेक्टिकट अमेरिका का 18वां राज्य बन गया है, जिसने सिख धर्म को सामाजिक विज्ञान के पाठ्यक्रम का हिस्सा बनाने के लिए इस संगठन के साथ हाथ मिलाया है। इससे पहले जून में वाशिंगटन ने सिख धर्म को स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल किया था।

 

 

Back to top button